प्रेसमैन टाइम्स

Celebrating New Year: न्यू ईयर पर पर्यटकों के लिए एडवाइज़री जारी,सख्ती से प्रोटोकॉल का पालन करने के दिए गए निर्देश

News Credit: Roma Fatima

देश में 24 घंटे में कोरोना के 243 नए मामले सामने आये जिसमे 1 की मौत हो गई। इसलिए सरकार से इसकी रोकथाम कम करने के लिए IMA ने निर्देश जारी करने की अपील की है।

दुनियाभर में जिस तरह से कोरोना के मामले बढ़ रहे हैं, उससे एक बार फिर से कोरोना संकट का खतरा बढ़ गया है। महामारी के बढ़ते संकट को देखते हुए इंडियन मेडिकल एसोसिएशन (IMA) ने एडवाइयज़री जारी कर दी है। कोरोना के प्रकोप को रोकने और कोविड नियमों का फिर से सख्ती से पालन करने की सलाह दी जा रही है। इसके साथ ही आईएमए ने महामारी के प्रकोप से निपटने के लिए चिकित्सा सुविधाओं को अलर्ट रहने के लिए भी कहा है।


नए साल के स्वागत के लिए मनाए जाने वाले जश्न में कोविड प्रोटोकॉल का पालन करना होगा। स्वास्थ्य विभाग ने इसके लिए एडवाइज़री जारी करदी है। सभी होटल, रिसार्ट व मॉल संचालकों को निर्देश दिए गए हैं कि उनके यहां आने वाले लोगों को सख्ती से कोविड प्रोटोकॉल का पालन होगा।

सीएमओ डॉ. मनोज अग्रवाल ने बताया है कि “सभी आयोजकों को खुले स्थान पर कार्यक्रम करने के लिए कहा गया है। पार्टी में मास्क व सामाजिक दूरी का पालन कराना होगा और सैनिटाइज़र की व्यवस्था ज़रूर रखनी होगी।"

बृहस्पतिवार को आईएमए ने कहा कि “कोरोना महामारी के प्रकोप से निपटने के लिए सार्वजनिक और निजी क्षेत्र में मज़बूत बुनियादी ढांचे, दवाओं और सक्रिय प्रशासनिक ढ़ांचे की आवश्यकता होती है।

“ इंडियन मेडिकल एसोसिएशन ने कहा कि “भारत में पर्याप्त दवाओं और टीकों की उपलब्धता को देखते हुए महामारी की स्थिति से निपटने में सक्षम होगा।“

आईएमए ने जारी एडवाइज़री में कहा कि, "विभिन्न देशों में कोविड के मामलों में अचानक वृद्धि कच मद्देनज़र, इंडियन मेडिकल एसोसिएशन अलर्ट करता है और जनता से तत्काल प्रभाव से कोविड उचित व्यवहार का पालन करने की अपील करता है।" 

साथ ही साथ आईएमए ने सरकार से संबंधित मंत्रालयों और विभागों को आपातकालीन दवाएं, ऑक्सीजन सिलिंडर और एम्बुलेंस सेवाएं पहले से उपलब्ध कराने के लिए आवश्यक निर्देश जारी करने की अपील भी की है।

कोरोना के इस नए वैरिएंट से निपटने के लिए स्वास्थ्य विभाग जांच का दायरा बढ़ाएगा। इसके लिए रैपिड रिस्पांस टीम भी बढ़ाई जा रही है। पॉजिटिव मरीज़ो के संपर्क में आने वाले ज़्यादा से ज़्यादा लोगों की जांच कराने के साथ उनकी जीनोम सीक्वेंसिंग भी कराई जाएगी। अभी रोज़ाना 800 से 1000 लोगों की जांच हो रही है। एक केस मिलने पर 30-40 लोगों की जांच कराई जा रही है। और अब 50 से 60 लोगों की जांच कराई जाएगी।


 IMA ने दी ये सब सलाह

• सार्वजनिक स्थानों पर फेस मास्क का प्रयोग करें। 

• सोशल डिस्टेंसिंग बनाए रखें। 

• साबुन और पानी या सैनिटाइजर से हाथ धोएं। 

• सार्वजनिक समारोहों में जाने से बचें। 

• विदेशों की यात्रा से बचें। 

• गले में खराश, बुखार, खांसी, लूज़ मोशन जैसे लक्षण होने पर डॉक्टर से सलाह लें। 

• कोविड टीकाकरण जल्द से जल्द करवाएं। 

• सरकार द्वारा जारी समय- समय पर एडवाइज़री का पालन अवश्य करें।

चीन में फैल रहे कोरोना के नए वेरिएंट से भारत सरकार एक बार फिर से सतर्क हो गई है। इसलिए हमें भी नये साल का जश्न मनाने के लिए थोड़ी सावधानी बरतने की ज़रूरत पड़ती है। कोरोना महामारी से खुद को सुरक्षित रखने के लिए सबसे अच्छा ऑप्शन है कि अपने घर में ही छोटी-सी पार्टी रख लें। नये साल का जश्न बनाने का अगर आपका प्लान बन भी गया है तो कोशिश करें कि भीड़ वाली जगह पर मास्क लगाएं और सावधानी ज़रूर बरतें।

Share on Instagram

About Krishn Praddhumn

    Comment By Gmail
    Facebook Comment

0 Comments:

Post a Comment